HOT!Subscribe To Get Latest VideoClick Here

कंगना के बिगड़े बोल | आजादी पर सवाल! | 1947 की आजादी भीख थी, असली स्वतंत्रता 2014 में मिली



कंगना तेरे बोल का नहीं तनिक भी मोल
बोलने से पहले खूब ले तू तोल
दिग्दर्शन इतिहास का पहले ही तू खोल
अक्षर अक्षर शब्द शब्द मन ही मन में घोल
स्वाधीनता संग्राम के हैं अनंत कथा अनमोल
गांधी नेहरू सरदार भगत सिंह,
अंबेडकर आजाद हीरो हैं बिस्मिल
टिप्पणी करने के अभी नहीं बनी काबिल
तेरे सिनेमाई अदाओं
अर्द्ध नग्न फोटो खिंचाओ से
न मिली है
न मिल सकती है
कभी कोई आजादी?
कान खोलकर सुन शहजादी!
बड़े तमगे आनर इस देश ने ही तुझे दिए हैं
फिर कैसे तूने आजादी पर सवाल खड़े किए हैं?
आजादी को मिली भीख में कह दिए हैं!
शर्म करो ,आजादी के नायकों का कद्र करो शर्मनाक कथन से बचो!
बोलने से पहले अंतरात्मा को टटोलना
तोलना मोलना फिर कहीं कुछ बोलना
आजादी की कीमत तू क्या जानेगी
आने वाली नस्लें तुझे बता देंगी
ऐसी गलती कभी न दुहराना
करोड़ों भारतीयों के दिल न दुखाना
वरना पड़ जाएगा पछताना!

x..........................................................................................x.......................................................................................................................x

#Tags: Kangana Ranaut के विचारों ने खड़ा किया बखेड़ा, Father of Nation पर उठाए सवाल 'भीख में आजादी' वाले बयान पर घिरीं Kangana Ranaut, क्या फिर लगाएं आजादी के इतिहास की Class? जिस गांधी की दुनिया कायल, उस पर कंगना क्यों उठा रहीं सवाल?

Post a Comment

0 Comments